विष्णु भगवान का प्रसिद्ध मंत्र, (मंत्र का अर्थ ) /Famous mantra of Lord Vishnu, (meaning of mantra)

विष्णु भगवान का प्रसिद्ध मंत्र, (मंत्र का अर्थ )

 विष्णु भगवान का मंत्र:

"ॐ नमो भगवते वासुदेवाय"
"ॐ नमो भगवते वासुदेवाय" विष्णु भगवान का प्रसिद्ध मंत्र है। इस मंत्र का अर्थ है:
"ॐ" - ओंकार या "ओम" एक प्राचीन धार्मिक स्यम्बोल है, जिसे साधना और मन्त्रजाप में उच्चारित किया जाता है। इसका उच्चारण मन को शांति प्रदान करता है।
"नमो" - नमन का अर्थ है श्रद्धा भाव से प्रणाम करना। इससे हम अपने मन को भगवान की ओर ध्यान केंद्रित करते हैं।
"भगवते" - भगवान के संबंध में इस मंत्र के द्वारा उनके गुणों की प्रशंसा होती है।
"वासुदेवाय" - वासुदेव विष्णु का एक नाम है, जिससे भगवान के संबंध में उनकी प्रशांत और प्रेम भावना का बोध होता है।
इस मंत्र का जाप करने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है, जो हमें शांति, सुख, धन, समृद्धि, और सभी संभव समस्याओं से मुक्ति प्रदान करती है। भक्ति भाव से इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति भगवान के करीब महसूस करता है और उन्हें समृद्धि और सफलता मिलती है।

विष्णु भगवान का वशीकरण मंत्र:

"ॐ नमो नारायणाय अमुकं वश्यं कुरु कुरु स्वाहा।"
"ॐ नमो नारायणाय अमुकं वश्यं कुरु कुरु स्वाहा।" विष्णु भगवान का वशीकरण मंत्र है। इस मंत्र का उच्चारण किसी व्यक्ति को अपने वश में करने के उद्देश्य से किया जाता है। 

मंत्र का अर्थ निम्नलिखित है:-*

"ॐ" - ओंकार या "ओम" का उच्चारण मन को शांति और स्थिरता प्रदान करता है।
"नमो" - भक्ति भाव से प्रणाम करना।
"नारायणाय" - इस मंत्र में "नारायण" श्रीविष्णु के एक नाम है, जिससे उनके गुणों की प्रशंसा की जाती है।
"अमुकं" - इस शब्द का उपयोग व्यक्ति का नाम करने के लिए होता है, जिसके वश में लाना है। यहां "अमुकं" के स्थान पर व्यक्ति का नाम आता है, जिसको वशीभूत किया जाना है।
"वश्यं कुरु कुरु" - "वश्यं कुरु" का अर्थ है उस व्यक्ति को अपने वश में करना या नियंत्रित करना।
"स्वाहा" - इस सम्बोधन के द्वारा भगवान विष्णु को प्रसन्न किया जाता है और उनकी कृपा मिलती है।
इस मंत्र को विशेष उद्देश्यों के लिए, जैसे कि प्रेमी को प्रीति में पटाने, पति या पत्नी को वश में करने, अचूक वशीकरण के लिए प्रयोग किया जाता है। हालांकि, ध्यान दें कि वशीकरण के प्रयोग को सावधानीपूर्वक और नैतिकता से करना चाहिए, और इसका दुरुपयोग नहीं करना चाहिए।

विष्णु भगवान मंत्र जाप:

विष्णु भगवान के मंत्र का जाप करने से आपको शांति, सुख, धन, वैभव, और सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है। आप दैनिक जीवन में इस मंत्र का १०८ बार जाप कर सकते हैं। इसके अलावा, विशेष अवसरों पर अधिक जाप भी किया जा सकता है।

विष्णु भगवान के भजनों के नाम 

विष्णु भगवान के कई भजन और आरतियां हैं जिन्हें आप अपने भक्तिभाव से गाते और सुन सकते हैं। कुछ प्रसिद्ध विष्णु भगवान के भजनों के नाम हैं:
1. ओम जय जगदीश हरे
2. वैष्णव जन तो तेने कहिए
3. अच्युतम केशवं
4. श्रीकृष्ण गोविंद हरे मुरारी
5. हरे राम हरे राम
याद रखें, भगवान की भक्ति करने से हम उनके करीब पहुंचते हैं और इससे हमारे मन को शांति मिलती है और जीवन में सकारात्मकता आती है। आप अपने संध्या और सुबह के समय इन भजनों का सुनने और गाने का संयम रख सकते हैं।

Comments