जानिए रामायण के 7 कांड की जानकारी

जानिए रामायण के 7 कांड की जानकारी  Know the information about 7 episodes of Ramayana

  1. बालकांड
  2. अयोध्याकांड
  3. अरण्यकांड
  4. किष्किंधाकांड 
  5. सुंदरकांड
  6. युद्धकांड
  7. उत्तरकांड
बालकांड (Balakanda): इस कांड में राम का जन्म, बचपन, उनके वनवास का निर्णय, और उनके पिता दशरथ की मृत्यु की घटना का वर्णन है।

बालकांड में कई महत्वपूर्ण तथ्य 

बालकांड में कई महत्वपूर्ण तथ्य हैं जो रामायण की कथा को अद्भुत बनाते हैं। यहाँ कुछ मुख्य तथ्य हैं:
  • राम का जन्म:** राम का जन्म अयोध्या में राजा दशरथ और कौसल्या के घर में हुआ था। उनका जन्म चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी को हुआ था, जिसे राम नवमी के रूप में मनाया जाता है।
  • गुरुकुल शिक्षा:** बचपन में राम गुरुकुल में गुरु वशिष्ठ के शिष्य के रूप में रहे। वहां उन्होंने ब्रह्मचर्य जीवन और विभिन्न कलाओं का अभ्यास किया।
  • राम-सीता विवाह:** सीता स्वयंवर में धनुषधारण के प्रतियोगिता में राम ने धनुष तोड़ा और सीता से विवाह किया।
  • वनवास का निर्णय:** कैकेयी के वरदानों के अनुसार, राम को 14 वर्षों के वनवास और भरत को राजा बनाने का निर्णय लिया गया।

अयोध्याकांड (Ayodhyakanda): राम के अयोध्या के प्रवेश, सीता हरण, राम के वनवास जाने का निर्णय और उनका राज्य त्याग इस कांड में दर्शाया गया है।

कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्य अयोध्या कांड के

अयोध्याकांड भगवान रामायण का एक महत्त्वपूर्ण खंड है, जिसमें कई महत्त्वपूर्ण घटनाएं हैं। कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्य इस कांड से जुड़े हैं:
  1. राम का राज्याभिषेक:** अयोध्याकांड में राम का राज्याभिषेक वर्णित है, जब उन्होंने अपने पिता के वचनों का पालन करते हुए अयोध्या का राजा बनने का नेतृत्व किया।
  2. सीता हरण:** रावण द्वारा सीता का हरण भी इस कांड में हुआ था, जिससे राम, लक्ष्मण, और जटायु नामक गरुड़ के विनाश के बाद सीता का हरण हो गया।
  3. राम का वनवास:** राम ने अपने पिता के वचन का पालन करते हुए दण्डक वन में 14 वर्ष का वनवास गुजारा।
  4. भरत की प्रयास:** राम के राज्य त्याग के बाद, उनके भाई भरत ने उन्हें वापस लाने के लिए कई प्रयास किए।
  5. राम का पत्नी सीता के साथ बद्ध बंधन:** राम ने अपनी पत्नी सीता के साथ बद्ध बंधन में रहते हुए वनवास बिताया।
ये कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्य हैं जो अयोध्याकांड से जुड़े हैं और जो भगवान राम के जीवन की महत्त्वपूर्ण घटनाओं को दर्शाते हैं।

अरण्यकांड रामायण के रोचक तथ्य

अरण्यकांड (Aranyakanda): राम, सीता और लक्ष्मण का वनवास, उनके आश्रम में राक्षसी शूर्पणखा के साथ संघर्ष और उसके पश्चात् रावण की बहन सूर्पणखा की मृत्यु इस कांड में बताई गई है।
अरण्यकांड रामायण का एक महत्त्वपूर्ण भाग है और इसमें कई रोचक तथ्य हैं। यहाँ कुछ रोचक तथ्य हैं:
  1. अशोक वन:** अरण्यकांड में, राम, सीता, और लक्ष्मण अशोक वन में पहुंचते हैं, जो कि राक्षसी राजकुमारी सूर्पणखा का निवास स्थान था। यहाँ राम से संघर्ष और उसके बाद रावण के साथ टकराव होता है।
  2. अग्निपरीक्षा:** सीता की पति परमपरा को संकेत करते हुए, राम ने सीता को अग्नि के पास बैठाकर उसे परीक्षा में डाला था। यह परीक्षा उनकी पत्नी की निष्कलंकता और निष्कलंकता की प्रतिज्ञा को प्रमाणित करती है।
  3. लक्ष्मण रेखा:** जब शूर्पणखा ने लक्ष्मण को पाने की कोशिश की, तो उसने एक रेखा खींची थी जो सीता और राम के आश्रम को सुरक्षित रखने के लिए थी।
  4. राक्षसी सूर्पणखा की बदलापूर्ण कहानी:** इस कांड में सूर्पणखा की कई परिस्थितियों में बदलाव आती है, जिनसे उसका चरित्र दर्शाता है कि वह बदल जाने पर भी अपने क्रोध में उलझी रहती है।
  5. राम, लक्ष्मण और सीता का संघर्ष:** इस कांड में, राम, लक्ष्मण, और सीता का वनवासी जीवन का संघर्ष, उनकी विशेषताएं, और धैर्य का प्रदर्शन किया गया है।
ये कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्य हैं जो अरण्यकांड में उपस्थित हैं और जो इस कांड की अनूठीता और महत्त्व को दर्शाते हैं।

Comments